Software Engineer Kaise bane in Hindi | Skillsandtech

सॉफ़्टवेयर इंजीनियर वे पेशेवर हैं जो व्यवसाय के लिए व्यवसाय के साथ-साथ व्यक्तिगत उपयोग के लिए परीक्षण, डिजाइन, विकास, कंप्यूटर सॉफ़्टवेयर के रखरखाव, कंप्यूटर सॉफ़्टवेयर के विकास और रखरखाव के लिए ज़िम्मेदार हैं. सॉफ़्टवेयर के डिजाइन और निर्माण में गणित, कंप्यूटर विगयाँ और इंजीनियरिंग के सिद्धांतों को लागू करें.

यह तकनीकी रूप से संचालित क्षेत्र है और जो उम्मीदवार earnings बढ़ाना चाहते हैं, उनके पास संबंधित क्षेत्र में तकनीकी डिग्री होनी चाहिए. उनकी नौकरी की भूमिका वीडियो गेम बनाने, इंटरनेट एप्लीकेशन विकसित करने और नए कंप्यूटर नेटवर्क के परीक्षण और चलाने से भिन्न होती है. इसके अलावा, उनका काम परीक्षण, प्रोटोटाइप और सॉफ़्टवेयर और कंप्यूटर सिस्टम के मूल्यांकन को शामिल करना है.

सॉफ़्टवेयर इंजीनियर बनाने की पात्रता

  • उम्मीदवारों को मुख्य विषयों के रूप में पीसीएम (भौतिकी, रसायन विगयाँ और गणित) के साथ किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 10 + 2 या समकक्ष परीक्षा उत्तीर्ण होना चाहिए.
  • B. Tech/ B. E.  करने के लिए 10 + 2 या समकक्ष में न्यूनतम 55% अंक अनिवार्य है. सॉफ़्टवेयर इंजीनियरिंग या डिप्लोमा पाठ्यक्रम उसी में.
  • सॉफ़्टवेयर इंजीनियरिंग में M.Tech में प्रवेश के लिए, उम्मीदवारों के पास आवश्यक क्षेत्र में न्यूनतम 50% के साथ स्नातक स्तर का उत्तीर्ण प्रमाण पत्र होना चाहिए.
  • स्नातक, डिप्लोमा, स्नातकोत्तर और डॉक्टरेट कार्यक्रमों में प्रवेश के लिए आवश्यक प्रवेश परीक्षाओं में से किसी एक का पासिंग स्कोरकार्ड अनिवार्य है.

जॉब रोल्स

सॉफ़्टवेयर इंजीनियरों की आवश्यकता लगभग सभी कंपनियों द्वारा होती है चाहे वह आईटी या गैर-आईटी संगठन हो. नीचे सूचीबद्ध कुच्छ लोकप्रिय सॉफ़्टवेयर इंजीनियर जॉब प्रोफाइल हैं:

वेब डेवलपर:

वेबसाइट के लिए कोड लिखने, बैकेंड सिस्टम (जैसे वेबसाइटों के साथ डेटाबेस) को एकीकर्ट करने और नई वेबसाइट सुविधाओं और अनुप्रयोगों को विकसित करने के लिए वेब प्रौद्योगिकियों और प्रोग्रामिंग भाषाओं, जैसे की जावास्क्रिप्ट, हटम्ल या एजॅक्स का उपयोग करना उनकी नौकरी की भूमिका है.

व्यावसायिक सूचना विश्लेषक:

उनकी कार्य भूमिका उनके विश्लेषणात्मक कौशल का उपयोग अनुसंधान, योजना और प्रबंधन करने के लिए सेट है की कैसे सूचना प्रणाली और सॉफ़्टवेयर का उपयोग व्यावसायिक समस्याओं को हाल करने के लिए किया जा सकता है.

कंप्यूटर सिस्टम विश्लेषक:

कंप्यूटर सिस्टम विश्लेषक हार्डवेयर और सॉफ़्टवेयर सिस्टम के knowledge का उपयोग करके यह निर्धारित करते हैं की कोई संगठन या कंपनी अपने संसाधनों का प्रभावी ढंग से संचालन करने के लिए कैसे उपयोग कर सकती है. उनका काम मुख्य रूप से तकनीकी अवसंरचना आवश्यकताओं की पहचान करना, कंप्यूटिंग पैकेजों की डिजाइन और स्थापना पर शोध करना है.

सूचना सुरक्षा विश्लेषक:

उनका काम सुरक्षा ओड़ित करना, जोखिम मूल्यांकन करना और किसी कंपनी के देता सिस्टम की सुरक्षा को बेहतर बनाने में मदद करना है.

डेटाबेस एडमिनिस्ट्रेटर:

उनकी कार्य भूमिका कंपनियों के डेटाबेस को प्रबन्धित करने, डेटाबेस बैकअप करने, तारीख की संरचना को संशोधित करने की होती है. वे रिलेशनल डेटाबेस भाषाओं जैसे की मिचरोसॉफ़्ट स्क्ल, ओरचलाई आदि के अपने गयाँ के साथ ऐसा करने का प्रबंधन करते हैं.

मोबाइल एप्लीकेशन डेवलपर:

यह सॉफ़्टवेयर इंजीनियरों के लिए  सबसे लोकप्रिय जॉब प्रोफाइल में से एक है क्योंकि मोबाइल एप्लीकेशनों का रुझान दिन-प्रतिदिन बढ़ रहा है. मोबाइल भाषाओं और इफ़ॉनई, इपद, सैमसंग गैलेक्सी जैसे मोबाइल उपकरणों के लिए एप्लीकेशन और वेबसाइट बनाने के लिए जावास्क्रिप्ट और .नाइट जैसे उद्देश्य के बारे में उनके गयाँ का उपयोग करें.

गुणवत्ता आश्वासन (का) प्रबंधक:

वे सॉफ़्टवेयर विकास प्रक्रिया के दौरान आने वाले मुद्दों की पहचान करने के लिए निष्पादन और गुणवत्ता समीक्षा योजनाओं के लिए ज़िम्मेदार हैं. कयूए इंजीनियर परीक्षण के दायरे को परिभाषित करने, मैनुअल और स्वचालित परीक्षण योजनाओं का संचालन करने के लिए ज़िम्मेदार हैं. वे सुधार के क्षेत्रों की पहचान करने के लिए डेवलपर्स के साथ मिलकर काम करते हैं.

सॉफ़्टवेयर इंजीनियर के लिए रोज़गार के अवसर

सॉफ़्टवेयर इंजीनियरों के लिए रोज़गार के अवसर विभिन्न क्षेत्रों में उपलब्ध हैं. जैसा की उनकी नौकरी की भूमिका सिर्फ़ नए सॉफ़्टवेयर डिजाइन करने तक सीमित नहीं है, नए मोबाइल अईप बनाने के लिए एक नए सॉफ़्टवेयर उत्पाद को विकसित करने के लिए वीडियो गेम डिजाइन करने के लिए हमारे प्रमुख जनसांख्यिकी की बदलती ज़रूरतों को पूरा करने के लिए मौजूदा सॉफ़्टवेयर का विस्तार करने से. नीचे सॉफ़्टवेयर इंजीनियरों के लिए रोज़गार के अवसरों की जाँच करें:

  • आईटी कंपनियाँ
  • गैर-आईटी कंपनियाँ
  • स्टार्ट-आप
  • बीमा
  • वित्त
  • बैंकिंग
  • बहुराष्ट्रीय कंपनियाँ

सॉफ़्टवेयर इंजीनियर के लिए शीर्ष भारती कंपनियों

सॉफ़्टवेयर इंजीनियरों के लिए नौकरी और रोज़गार का द्रष्टिकोण काफ़ी अच्च्छा है क्योंकि इन पेशेवरों की भारी माँग है. सॉफ़्टवेयर इंजीनियरों को नियुक्त करने वाले कुच्छ लोकप्रिय आईटी, गैर-आईटी और बहुराष्ट्रीय कंपनियाँ नीचे सूचीबद्ध हैं:

  • इन्फ़ोसयस
  • टाटा कन्सलटेन्सी सर्वीसज़ (ट्स)
  • ऑरेकल फाइनान्षियल सर्वीसज़
  • ह्क्ल टेक्नॉलजीस
  • Mइन्द्ट्री
  • जूनिपर नेटवर्क्स
  • माइक्रोसॉफ्ट
  • अडोबी
  • हेक्षवरे टेक्नॉलजीस लिमिटेड (हतल)
  • सिस्को
  • इंटेल

सॉफ़्टवेयर इंजीनियर के वेतनमान / वेतन

एक अर्न्ट्रे-लेवल सॉफ़्टवेयर इंजीनियर के लिए औसत वेतन लगभग है. रु. 3,50,000 प्रति वर्ष. एक मध्य कैरियर संचार इंजीनियर के लिए, यह लगभग रु. 6,50,000 प्रति वर्ष. हालाँकि, 10 वर्षों या पर्याप्त सॉफ़्टवेयर इंजीनियरों के पर्याप्त अनुभव के साथ बहुत उच्च पैकेज की पेशकश की जाती है.

नोट: उपरोक्त आँकड़े एक अनुमान हैं और व्यक्ति से अलग-अलग और कंपनी से कंपनी में भिन्न हो सकते हैं.

सॉफ़्टवेयर इंजीनियर बनाने के लिए किताबें और अध्ययन सामग्री

यदि आप सॉफ़्टवेयर इंजीनियरिंग के लिए एक अच्च्चे और प्रसिद्ध कॉलेज में प्रवेश पाने की योजना बना रहे हैं, तो आपको इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा में अच्च्छा स्कोर करने के लिए कड़ी मेहनत करनी होगी. कुच्छ लोकप्रिय प्रवेश परीक्षा जीईए एडवांस, जीईए में, बितसाइट, वीआईटीईई, छोमैड्क, आदि ओ हैं. हालाँकि, प्रवेश स्तर की परीक्षाओं को क्रैक करना महत्वपूर्ण है और इसके लिए आपको सही पुस्तकों, अध्ययन सामग्री और नमूना पत्रों की आवश्यकता होती है. इन प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी के लिए आपके पास आवश्यक पुस्तकों और अध्ययन सामग्री की निम्न सूची देखें:

सॉफ़्टवेयर इंजीनियरिंग: रोजर एस. प्रेसमैन द्वारा एक प्रैक्टषनर का द्रष्टिकोण पुस्तक

कार्ल वाइजर और जॉय बीट्टी द्वारा सॉफ़्टवेयर आवश्यकताएँ
डिजाइन: सॉफ़्टवेयर डिजाइन: डेविड बड़गें
गताई सॉफ़्टवेयर इंजीनियरिंग – 23 वर्ष का अध्याय – समझदार हाल पत्रों (1996 – 2018) 2019 2019 गकप द्वारा संस्करण

एक सॉफ़्टवेयर इंजीनियर बनने के फायदे

  • सॉफ़्टवेयर इंजीनियरों को अच्च्ची तरह से भुगतान किया जाता है और रिकॉर्ड के अनुसार, 32% की व्रद्धी होने जा रही है
  • सॉफ़्टवेयर इंजीनियर नौकरियाँ.
  • सॉफ़्टवेयर इंजीनियरिंग आपको यू.एस. कनाडा या यूरोप में जाने के अवसर प्रदान करता है.
  • यदि आप अपना परामर्श व्यवसाय या एसस (सेवा के रूप में सॉफ़्टवेयर) या पैकेजड़ सॉफ़्टवेयर व्यवसाय शुरू करना चाहते हैं, तो प्रवेश की बाधा पारंपरिक इंजीनियरिंग विशेषग्यता की तुलना में अविश्वसनीय रूप से कम है.
  • यह आपको नौकरी की संतुष्टि का एक बड़ा सौदा प्रदान करता है क्योंकि आप नई चीज़ों का निर्माण और निर्माण कर रहे होंगे.

एक सॉफ़्टवेयर इंजीनियर बनने के नुकसान

सॉफ़्टवेयर इंजीनियरिंग बहुत तनावपूर्ण हो सकती है, ख़ासकर जब आपको समय सीमा को पूरा करने की आवश्यकता होती है. इंजीनियरों को भी माँग करने वाले उपयोगकर्ताओं के साथ मिलना आवश्यक है और इन कठिन ग्राहकों के साथ उचित और व्यक्तिगत रूप से संवाद करने में सक्षम होना चाहिए.

Software Engineer Banane ke liye kuch tips

1. कंप्यूटर प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को सही तरीके से सीखे : अगर आप सॉफ्टवेयर इंजीनियर(Software Engineer) बनना चाहते हो या फिर कंप्यूटर फील्ड में कुछ भी करना चाहते हो तो आपको इसके लिए कंप्यूटर प्रोगरामिंग में एक्सपर्ट हो ना ही होगा।

इसलिए आप जहां पर भी बेचलर डिग्री के लिए कोर्स कर रहे हो वहां पर आपको प्रोग्रामिंग भी सिखाई जाएगी तब आप सही तरीके से और आसानी से प्रोग्रामिंग को सीखे।

आप घर पर ही अपने लैपटॉप या मोबाइल में प्रोग्रामिंग का काम करें और प्रोग्रामिंग की लैंग्वेज को सीखें क्योंकि आने वाले टाइम में यही आपके काम आने वाली है।

2. अपने प्रोगरामिंग लैंग्वेज को स्ट्रांग बनाये : अगर आप क्या कर रहे कंप्यूटर के फील्ड में बहुत कुछ करना है या फिर एक प्रोफेशनल सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनना है तो इसके लिए आपको बेसिकली अपने प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को स्ट्रांग बनाना होगा।

क्योंकि जितने भी सॉफ्टवेयर बनाए जाते हैं वह बेसिकली एक लॉजिक पर ही बनाए जाते हैं। जब तक आप किसी सॉफ्टवेयर के लिए लॉजिक अप्लाई नहीं करोगे तो वह सॉफ्टवेयर नहीं होगा यानी की चलेगा नहीं। तो इसके लिए बेसिकली आप का Maths अच्छा होना जरूरी है।

3. छोटे छोटे सॉफ्टवेयर बनाने की कोशिश करे : आप जहां पर भी सॉफ्टवेयर इंजीनियर(Software Engineer) बनने के लिए बैचलर डिग्री का कोर्स कर रहे हैं वहां पर आपको प्रोग्रामिंग लैंग्वेज भी सिखाई जाती होगी। आपकी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के जरिए छोटे छोटे सॉफ्टवेयर बना सकते हैं।

ऐसे मैं आपको कोशिश करते रहना चाहिए कि आप को जब भी टाइम मिले तब आप एक छोटा सा सॉफ्टवेयर बना दे और उसे हर वक्त अपग्रेड करने यानी कि बेहतर बनाने में अपना टाइम लगाएं। ऐसे में आपका हाथ सॉफ्टवेयर बनाने में अच्छा होता जाएगा और आप एकदम परफेक्ट सॉफ्टवेयर मेकर बन जाओगे।

अगर आप खुद का अच्छे सॉफ्टवेयर बनाने लग जाते हो तो आप अपने सॉफ्टवेयर को भेजकर या फिर किसी कंपनी में प्रोफेशनल तौर पर सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग(Software Engineer) का काम कर सकते हो, किससे कि ना केवल आपका करियर सेट होगा बल्कि आपकी इनकम भी शानदार होगी।

4. छोटी सॉफ्टवेयर कंपनी में Apply करे : यह आपका सबसे लास्ट स्टॉप होगा जो कि आपको अपने करियर की तरफ ले जाएगा। जब आप छोटे सॉफ्टवेयर बनाने में एक्सपर्ट हो जाओ तो आप किसी छोटी कंपनी को ज्वाइन कर लो भले ही आपको वहां पर सैलरी कम मिले।

वहां पर आपको अधिक जानकारी मिलेगी और धीरे-धीरे छोटे छोटे सॉफ्टवेयर बनाते-बनाते आप बड़े सॉफ्टवेयर बनाने लग जाएंगे जिसके बाद आपको खुद सॉफ्टवेयर मेकिंग के ऑफर आने लगेंगे और आप किसी भी कंपनी में जॉब कर पाओगे।

Facebook Comments